हिमालय के योगियों की गुप्त सिद्धियाँ हिंदी बुक पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Himalay ke Yogiyo ki Gupt Siddhiyan Hindi Book PDF free Download

हिमालय के योगियों की गुप्त सिद्धियाँ नारायण दत्त श्रीमाली हिंदी बुक पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Himalay ke Yogiyo ki Gupt Siddhiyan by Narayan datt shrimali Hindi Book PDF free Download

Himalay ke Yogiyo ki Gupt Siddhiyan Hindi Book

हिमालय के योगियों की गुप्त सिद्धियाँ नारायण दत्त श्रीमाली हिंदी बुक पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Himalay ke Yogiyo ki Gupt Siddhiyan by Narayan datt shrimali Hindi Book PDF free Download

साबर साधनाओं का अन्यतम योगी

साबर साधनाएं जीवन की सरल, सहज और महत्त्वपूर्ण साधना हैं । ये ऐसी साधनाएं हैं जिनमें जटिल विधि-विधान नहीं है, जिनमें लम्बा-चौड़ा विस्तार नहीं है, जिनमें सूक्ष्म- श्लोक संस्कृत में नहीं, अपितु सरल भाषा में हैं। संसार की आठ क्रियायें ऐसी हैं जो कई हजार वर्ष पहले पूर्ण विकास पर थीं, परन्तु आज ये विद्याएं प्राय: लुप्त हैं, और शायद ही उनके बारे में योगियों को जानकारी होगी।

mycleversupport click here link

सिद्धाश्रम में अवश्य इनके बारे में निरन्तर शोध हो रही है, और उन चिन्तनों तथा साधना-विधियों को ढूंढ निकाला गया है जिनकी वजह से ये जीवित हैं ।

मैंने देखा कि इस व्यक्तित्व में असीम प्राण चेतना है, सत्य और वास्तविकता से झुठलाकर इसे दबाया नहीं जा सकता । प्रहार कर इसकी गति को अवरुद्ध नहीं किया जा सकता। बहलाकर इसे चुप नहीं कराया जा सकता। इसके मन में भारतवर्ष के प्रति असीम त्याग और अगाध श्रद्धा है। यह भारतवर्ष को पुनः उस स्थिति में ले जाना चाहता है जोकि इसका वास्तविक स्वरूप है ।

वह ऋषि-मुनियों के मन्त्रों, साधनाओं और सिद्धियों को सही तरीके से पुनः स्थापित करना चाहता है। ज्योतिष और आयुर्वेद के खोये हुए स्थान को पुनः दिलाना वाहता है।

इतना होने पर भी इस व्यक्तित्व में किसी प्रकार का कोई घमण्ड या अहंकार नहीं है। बाहर और भीतर में किसी प्रकार का द्वैत भाव दिखाई नहीं देता। जो कुछ मन में है, स्पष्ट बेलाग शब्दों में कह देता है। यदि इसके शब्दों से किसी को दर्द भी पहुंचता है, तब भी इसके मन में ऐसी कोई किसी को तकलीफ देने का उद्देश्य नहीं होता ।

अज्ञात रहस्यों के ज्ञाता

हम ज्यों-ज्यों प्रकृति के निकट जाते हैं स्यों-त्यों वह और अधिक रहस्यमयी प्रतीत होती है । पिछले कई हजार वर्षों से मानव प्रकृति के इन रहस्यों को समझने का प्रयास करता आ रहा है, परन्तु फिर भी उतनी सफलता नहीं मिल पाई है जितनी कि वास्तव में मिलनी चाहिए।

प्रारम्भ से ही मानव का प्रयत्न प्रकृति पर विजय प्राप्त करना है, और इसके लिए तन्त्र-मन्त्र योग आदि के माध्यम से उसको बस में करने का प्रयास किया, परन्तु आज भी ऐसे कई अज्ञात रहस्य हैं जिसे प्राप्त करना बाकी है।

“उन्होंने कहा, “प्रकृति हमारी शत्रु या प्रतिस्पर्धी नहीं अपितु सहायक है । उसके साथ द्वन्द्व करके सफलता नहीं पाई जा सकती, अपितु उसके साथ समन्वय करके ही सिद्धि प्राप्त हो सकती है। इसी स्थिति को और सिद्धान्त को ध्यान में रखकर पूज्य गुरुदेव ने जो साधनाएं स्पष्ट की उनको माध्यम से योगियों ने आसानी से प्रकृति पर विजय प्राप्त की।”

हमारे पूर्वजों और ऋषियों के पास कुछ विशिष्ट सिद्धियां थीं । परन्तु उनमें से काल के प्रवाह में बहुत कुछ लुप्त हो गई। उनमें भी बारह सिद्धियां तो सर्वथा लोप हो गईं थीं जिनका केवल नामोल्लेख इधर-उधर पढ़ने को मिल जाता था, पर उसके बारे में न तो किसी को प्राणाणिक ज्ञान था और न उन्हें ऐसी सिद्धि प्राप्त ही थी।

इनमें

(१) परकाया प्रवेश सिद्धि,

(२) आकाश गमन सिद्धि,

(३) जल गमन प्रक्रिया सिद्धि,

(४) हावी विद्या जिसके माध्यम से साधक बिना कुछ आहार ग्रहण किये वर्षों जीवित रह सकता है,

(५) कादी विधा – जिसके माध्यम से साधक या योगी कैसी भी परिस्थिति में अपना अस्तित्व बनाये रख सकता है, उस पर सर्दी, गर्मी, बरसात, आग, हिमपात आदि का कोई प्रभाव व्याप्त नहीं होता ।

(६) काल सिद्धि, जिसके माध्यम से हजारों वर्ष पूर्व के क्षण को या घटना को पहि- चाना जा सकता , देखा जा सकता है और समझा जा सकता है, साथ ही आने वाले हजार वर्षों के कालखण्ड को जाना जा सकता है कि भविष्य में कहां क्या घटना घटित होगी और किस प्रकार से घटित होगी।  इसके बारे में प्रामाणिक ज्ञान एक ही क्षण में हो जाता है। यही नहीं अपितु इस साधना माध्यम से भविष्य में होने वाली घटना को ठीक उसी प्रकार से देखा जा सकता है जिस प्रकार व्यक्ति टेलीविजन पर कोई फिल्म देख रहा हो ।

(७) संजीवनी विद्या – जो शुक्राचार्य या कुछ ऋषियों को ही ज्ञात थी, जिसके माध्यम से मृत व्यक्ति को भी जीवन दान दिया जा सकता है ।

(८) इच्छा मृत्यु साधना – जिसके माध्यम से काल पर पूर्ण नियन्त्रण प्राप्त किया जा सकता है और साधक चाहे तो सैकड़ों-हजारों वर्षों तक जीवित रह सकता है।

(६) काया कल्प साधना – जिसके माध्यम से व्यक्ति के शरीर में पूर्ण परिवर्तन लाया जा सकता है और ऐसा परिवर्तन होने पर वृद्ध व्यक्ति का भी काया कल्प होकर वह स्वस्थ, सुन्दर युवक बन सकता है, रोग रहित ऐसा व्यक्तित्व कई वर्षों तक स्वस्थ रहकर अपने कार्यों में सफलता पा सकता है।

(१०) लोक गमन सिद्धि — इसके माध्यम से पृथ्वी लोक में ही नहीं, अपितु अन्य लोकों में भी उसी प्रकार से विश्व- रण कर सकता है जिस प्रकार से हम कार के द्वारा एक स्थान से दूसरे स्थान या एक नगर से दूसरे नगर जाते हैं। इस साधना के माध्यम से भूलोक, भुवः लोक, स्वः लोक, महालोक, जनः लोक, तपःलोक, सत्यलोक,.

तन्त्र मार्ग का सिद्ध पुरुष

सही अर्थों में देखा जाय तो तन्त्र भारतवर्ष का आधार रहा है। तन्त्र का तात्पर्य है व्यवस्थित तरीके से कार्य सम्पन्न होना । प्रारम्भ में तो तन्त्र भारतवर्ष की सर्वोच्च पूंजी बनी रही, बाद में धीरे-धीरे कुछ स्वर्णिम और अनैतिक तत्व इसमें आ गये जिन्हें न तो तन्त्र का ज्ञान था और न इसके बारे में कुछ विशेष जानते ही थे । देह सुख और भोग को ही उन्होंने तन्त्र मान लिया था।

तन्त्र को भगवान् शिव का आधार है। उनके माध्यम से ही तन्य का प्रस्फुटन हुआ। जो कार्य मन्त्रों के माध्यम से सम्पादित नहीं हो सकता, तन्त्र के द्वारा उस कार्य को निश्चित रूप से स्पष्ट किया जा सकता है। मन्त्र का तात्पर्य है प्रकृति की उस विशेष सत्ता को अनुकूल बनाने के लिये प्रयत्न करना और अनुकूल बनाकर कार्य सम्पादित करना।

पर तन्त्र के क्षेत्र में यह स्थिति सर्वेया विपरीत है। यदि सीधे-सादे तरीके से प्रकृति वशवर्ती नहीं होती तो बलपूर्वक उसे देश में किया जाता है और ऐसी क्रिया को ही “तन्त्र” कहा जाता है ।

पर तन्त्र तलवार की धार की तरह है। यदि इसका सही प्रकार से प्रयोग किया जाय तो तुरन्त एवं अचूक सिद्धिप्रद है पर इसके विपरीत यदि थोड़ी भी असावधानी और गफलत कर दी जाय तो तन्त्र प्रयोग स्वयं कर्त्ता को ही समाप्त कर देता है। ऐसी कठिन चनौती को निखिलेश्वरानन्द ने स्वीकार किया और तन्त्र के क्षेत्र में उन स्थितियों को स्पष्ट किया जो कि अपने आप में अब तक गोपनीय रही है ।

हिमालय के योगियों की गुप्त सिद्धियाँ नारायण दत्त श्रीमाली हिंदी बुक पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Himalay ke Yogiyo ki Gupt Siddhiyan by Narayan datt shrimali Hindi Book PDF free Download

download-now-button-1-1

Leave a Comment

logo

Ecomicsvilla is online plateform for download Comics, Spiritual, motivation and occult books for free. This site use third party books and have no copyright on any books. You can submit your query direct us on telegram.