सुपर कमांडो ध्रुव डाइजेस्ट पार्ट 4 राज कॉमिक्स पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Super Commando Dhruv Digest Part 4 raj Comics PDF free Download

सुपर कमांडो ध्रुव डाइजेस्ट पार्ट 4 राज कॉमिक्स पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Super Commando Dhruv Digest Part 4 raj Comics PDF free Download

super commando dhruv digest 4

सुपर कमांडो ध्रुव डाइजेस्ट पार्ट 4 राज कॉमिक्स पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Super Commando Dhruv Digest Part 4 raj Comics PDF free Download

प्यार और आकर्षण के बीच बहुत ही बारीक सी लाइन होती है, जिसके कारण ज्यादातर लोग कंफ्यूज हो जाते हैं। ऐसे यदि आप अपने या किसी दूसरे व्यक्ति के दिल के जज्बात को सही ढंग से समझना चाहते हैं, तो यह लेख आपके लिए बहुत मददगार साबित हो सकता है।

mycleversupport click here link

प्यार और आकर्षण दो अलग चीज नहीं है। यदि आप प्यार और आकर्षण को ठीक से समझें तो पाएंगे कि प्यार की पहली शर्त दो लोगों के बीच आकर्षण होना है। यह एक ही रास्त के दो स्टॉपिंग प्वाइंट की तरह है। जिस पर चलने वाले कुछ लोग जहां प्यार तक पहुंचते हैं, तो कुछ आकर्षण तक ही अपने रिश्ते को सीमित कर देते हैं।

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आकर्षण से प्यार तक पहुंचने का रास्ता आसान नहीं होता है, जिसके कारण इन दोनों में अंतर करना संभव हो जाता है। तो चलिए जानते हैं, आपका रिश्ता प्यार की नींव पर खड़ा है या फिर आकर्षण पर।

दो लोग जिनके बीच प्यार होता है वह एक-दूसरे के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने के बारे में सोचते हैं। वह हर बार अपने पार्टनर से इस तरह से मिलते हैं जैसे यह उनकी पहली मुलाकात है।

लेकिन जब रिश्ता सिर्फ आर्कषण पर आधारित हो तो साथ में समय बिताने के लिए हमेशा किसी डिस्ट्रेक्शन की जरूरत होती है। आप कभी भी उसकी प्रायॉरिटी में शामिल नहीं होंगे।

दो लोग जो एक-दूसरे के प्यार में होते हैं, वह अपने भविष्य को किसी दूसरे के साथ बिताने के बारे में सोच भी नहीं पाते हैं। वह हमेशा साथ रहने के लिए एक साथ मिलकर अपना फ्यूचर प्लान बनाते हैं, और इसके लिए मेहनत करते हैं।

लेकिन अट्रेक्शन होने पर लोग कभी फ्यूचर प्लानिंग नहीं करते हैं। इसके बारे में बात करने तक से कतराते हैं। सीधे शब्दों में कहा जाए तो उनके आने वाले कल में आपकी कोई जगह नहीं होती है।

प्यार दो लोगों के बीच शारीरिक संबंध की अनिवार्यता पर जोर नहीं देता है, इसमें व्यक्ति भावनात्मक रूप से एक-दूसरे के करीब होता है। लेकिन आकर्षण का केंद्र बिंदु ही शारीरिक संबंध बनाना होता है।

इसमें व्यक्ति अपने पार्टनर की पसंद-नापसंद की कोई परवाह नहीं करता है। उन्हें इस बात से भी कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप क्या चाहते हैं। सच तो यह है कि यदि आपने उनसे शारीरिक दूरी बना ली तो वो आपके साथ ज्यादा दिनों तक साथ नहीं रहेंगे।

प्यार में व्यक्ति अपने पार्टनर के सामने आईने की तरह हो जाता है। उसकी गलतियां, कमियां, खूबियां कुछ भी छिपा हुआ नहीं रहता है। लेकिन जो लोग आकर्षण से प्रेरित रिश्ते में बंधे होते हैं, वह हमेशा अपनी पर्सनल लाइफ को बहुत ही प्राइवेट रखने की कोशिश करते हैं।

सुपर कमांडो ध्रुव डाइजेस्ट पार्ट 4 राज कॉमिक्स पीडीऍफ़ फ्री डाउनलोड Super Commando Dhruv Digest Part 4 raj Comics PDF free Download

download-now-button-1-1

Leave a Comment

logo

Ecomicsvilla is online plateform for download Comics, Spiritual, motivation and occult books for free. This site use third party books and have no copyright on any books. You can submit your query direct us on telegram.